LEENA MADEENA, sabse kam umar. लीना मदीना, जो दुनियां में सबसे कम उम्र में 'मां, बन गई थी।


लीना मदीना, जो दुनियां में सबसे कम उम्र में 'मां, बन गई थी।

      जी-हाँ, दक्षिणी अमेरिका के पेरू में उन्नीस सौ तैंतिंस में जन्मी 'लीना मदीना, दुनियां की सबसे कम उम्र की माँ हैं, उन्होंने महज पांच वर्ष, सात महीने और सत्रह दिनों में ही एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दे दिया था, जो मेडिकल साइंस के लिए एक इतिहास बन गया।

https://www.paltuji.com
https://www.paltuji.com 
      प्राकृति की किसी भूल-चूक के कारण लीना ढाई वर्ष की आयु में ही 'रजस्वला, हो गई थी, कुछ लोगों का मानना है कि यह क्रिया आठ माह की उम्र से ही प्रारंभ हो गई थी। चार वर्ष की होते-होते उसके भीतर प्रजनन के सारे लक्ष्ण परिपक्व हो चुके थे। उसके पेट के बढ़ते आकार को लेकर माता-पिता बहुत चिन्तित थे, उनकी समझ में नहीं आ रहा था कि यह क्या हो रहा है। गांव समाज के लोगों के संदेह करने पर वे उसकी झाड़-फूंक करवाने के लिए एक तांत्रिक के पास ले गए, तांत्रिक ने बताया कि उसकी बच्ची पर शैतान ने कब्जा कर लिया है, उसे शरीर से बाहर निकालने के लिए कुछ तांत्रिक क्रियाएं करनी पड़ेंगी।

      लीना के माता-पिता की सहमति से उस ओझा द्वारा तमाम अनुष्ठान और तांत्रिक क्रियाएँ की गईं, लेकिन कोई फायदा न हुआ। जब कोई फायदा नहीं हुआ तो लोग और तमाम तरह के कयास लगाने लगे, कुछ लोगों ने समझा कि लीना के पेट में कैंसर है, इसलिए यह बढ़ रहा है। जब सब तरफ से उसके माता-पिता थक-हार गए तब उन्होंने शहर जाकर डाक्टरी जांच करवाने का निर्णय किया। प्राथमिक उपचार में डाक्टरों ने भी यही समझा कि पेट में  कोई गांठ या रसौली है लेकिन मेडिकल परीक्षणों की रिपोर्टें आने के बाद यह सारी बातें झूठीं हो गईं और जो सच्चाई निकलकर सामने आई उसने सभी को सन्न कर दिया। मेडिकल रिपोर्टों से यह पता चला कि लीना के पेट में सात महीने का गर्भ है।

https://www.paltuji.com
https://www.paltuji.com 
      डॉ॰ जेरार्दो लोज़ादा, जिन्हें लीना के गर्भ के बारे में सर्वप्रथम पता चला था, उन्हें यह भरोसा ही नहीं हो रहा था कि यह कैसे संभव है, इस बात की प्रमाणिकता के लिए लीना की और भी अनेकों स्थानों पर जांच-पड़ताल करवाई गई, लेकिन सब जगह वह गर्भस्थ ही पायी गयी। करीब डेढ़ महीने तक इसी तरह जांच-पड़ताल चलती रही। चौदह मई-1939, को उसे असहनीय पीड़ा होने लगी, प्रजनन स्थान में कम 'भार, होने के कारण वह सामान्यतः गर्भस्थ शिशु को बाहर निकालने में असमर्थ थी, परिणाम स्वरूप उसका आॅपरेशन करना पड़ा।

     लेकिन हैरानी की बात यह है कि इतनी कम उम्र की मां से जन्मा यह बच्चा भी पूरी तरह स्वस्थ और सामान्य था, इसका वजन भी ढाई किलोग्राम से ज्यादा था। डॉ॰ जेरार्दो जिन्होंने लीना का प्राथमिक उपचार किया था उन्हीं के नाम पर लीना के बेटे का नाम 'जेरार्दो, रखा गया। कहते हैं, जेरार्दो को दस वर्ष की आयु में यह पता चला था कि लीना उसकी माँ है, अभी तक वह लीना को अपनी बड़ी बहन ही मानता था। अफसोस है कि मज्जा रोग होने के कारण 1979 में चालिस साल की उम्र में जेरार्दो की मर्त्यु हो गई। लीना मदीना अब 85, वर्ष  की हो चुकी हैं, और वे पेरू की राजधानी लीमा में रहती हैं, उनके पति राॅल जुरादो से जन्मी एक अन्य संतान भी है, इस तरह लीमा के दो बच्चे हुए।

https://www.paltuji.com
https://www.paltuji.com
लीना मदीना गर्भवती कैसे हुई?

      यह संदेह सबसे पहले लीना के पिता पर ही हुआ था, डॉ॰ जेरार्दो लोज़ादा ने इसकी रिपोर्ट भी दर्ज करवा दी थी जिसकी वजह से उन्हें गिरफ्तार भी कर लिया गया था लेकिन इस बात के कोई सबूत न मिलने पर उन्हें छोड़ दिया गया। लीना का एक बड़ा भाई भी था जो थोड़ा मंद बुद्धि का था लोगों ने उसे भी गिरफ्तार करवा दिया था, लेकिन उसे भी इस मामले में कोई हांथ न होने की वजह से रिहा कर दिया गया। तमाम मार्गों से इस बात सच्चाई को जानने का प्रयास किया गया, गांवों के छोटे-छोटे बच्चे खेलकूद में इधर-उधर गली-कूंचों में भी चले जाते हैं, यह संदेह भी किया गया कि किसी सिरफिरे ने उसका बलात्कार न कर दिया हो? लेकिन कहीं से कोई सुराग नहीं मिला, लीना ने भी इसके बाबत कभी कुछ नहीं बताया। 


https://www.paltuji.com
https://www.paltuji.com 
      अगर यह मान भी लिया जाता कि उसके साथ बलात्कार किया गया है तब भी प्रश्न यह था कि इतनी कम उम्र में गर्भ ठहरा कैसे? इसे प्राकृति की भूल कहें या अपवाद, किन्तु दुनियां की सबसे कम उम्र की मां के रूप में लीना मदीना का नाम इतिहास में अमर हो चुका है। 

https://www.paltuji.com










Previous
Next Post »