Elizabeth Taylor, part-2 एलिजाबेथ टेलर, भाग-2, जिसके पास संपत्ति का अंबार था, जिसके पास अनगिनत कारें थीं, जहाज और हवाई-जहाज थे।

अध्याय का भाग-2, एक अजीब संयोग, चौदह मास तक माइक के साथ जीवन बिताने के बाद जिस तरह एलिजाबेथ के विवाहित जीवन का अंत हुआ ठीक उसी तरह चौदह मास बाद 'रिचर्ड बर्टन, नाम का शख्स उसकी जिंदगी में दाखिल हुआ वह भी फिल्म इंडस्ट्री का ही एक सितारा था।.......... अब आगे पढ़ें!

https://www.paltuji.com/
practical life
      रिचर्ड बर्टन और एलिजाबेथ में बहुत गहरा प्रेम हो गया, वे जहां भी जाते दोनों साथ-साथ ही जाते। उनका प्रेम देखकर सभी यह कयास लगाए बैठे थे कि एलिजाबेथ रिचर्ड बर्टन को ही अपना अगला जीवन साथी चुनने वाली है। लेकिन ऐसा हुआ नहीं, क्योंकि एलिजाबेथ का दूसरा पति माइकल वाईल्डिंग तलाक के बावजूद भी हमेशा एलिजाबेथ के संपर्क में उसका मित्र बनकर ही रहा। कहते हैं! एलिजाबेथ जो भी फैसले लेती थी वे सब माइकल वाईल्डिंग की सहमति से ही लेती थी। यही कारण था जो उसे रिचर्ड बर्टन से चाहते हुए भी विवाह न करके 'एंड्डी फिशर, से विवाह करना पड़ा। एंड्डी फिशर माइकल वाईल्डिंग का करीबी था। वह एलिजाबेथ के स्वभाव को भलीभांति जानता था। उसके और एलिजाबेथ के स्वभाव में जमीन आसमान का फासला था। उन दोनों ने विवाह करके इस फासले की दूरियों को और लंबा कर दिया। बढ़ते-बढ़ते ये दूरियां इतनी ज्यादा हो गईं कि उन दोनों में तलाक हो गया।

      अखबारों और बाजारों में उसके और बर्टन के बीच प्रेम संबंधों को लेकर खुब चर्चे थे। वे एक बार फिर साथ-साथ देखे जाने लगे। एंड्डी फिशर से तलाक लेने के बाद वह बर्टन के और करीब आ गयी। हाॅलीवुड के इन दोनों प्रेमियों ने मिलकर एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में बनाईं उन फिल्मों से उन्होंने धन का अंबार जमा कर लिया उनकी एक 'हू इज आफ्रेड आॅफ वर्जीनिया वुल्फ, नाम की फिल्म पूरी दुनियां में खूब मशहूर हुई। 'क्लियोपैट्रा, नाम की फिल्म एक ऐतिहासिक फिल्म थी इस फिल्म में क्लियोपैट्रा का किरदार एलिजाबेथ टेलर ने ही निभाया था। यह फिल्म दर्शकों को इतना पसंद आई थी कि इसने तमाम फिल्मी रिकॉर्डों को तोड़ डाला था।

https://www.paltuji.com/
practical life
     क्लियोपैट्रा की सफलता के बाद फिल्म निर्माताओं में एलिजाबेथ को साइन करने के लिए जैसे होड़ सी लग गई, जिससे उसने अपने भाव भी दोगुने कर दिये थे। बर्टन उसके काम की सदैव प्रसंशा किया करता था और उसे प्रोत्साहित भी करता था। हालांकि उसे एलिजाबेथ से हमेशा कम पैसों में ही साइन किया जाता था, लेकिन इस बात का उसे कोई मलाल नहीं था। इनकी एक फिल्म 'टेमिंग आॅफ दी श्रयू, ने भी खूब पैसे बटोरे। फिल्म 'वर्जीनिया वुल्फ, में उसने जो काम किया उसे अश्लीलता कहकर दुनियां भर के ईसाईयों द्वारा विरोध किया गया। क्योंकि इस फिल्म में वह एक कामातुर महिला के किरदार में थी और फिल्म में तमाम कामोत्तेजक द्रश्यों को भी दिखाया गया था।

      एलिजाबेथ और रिचर्ड बर्टन बहुत अच्छे दोस्त भी थे उन्होंने करीब एक दशक तक हाॅलीवुड इंडस्ट्री पर राज किया। वे एक दूसरे से भलीभांति परिचित भी हो चुके थे। लेकिन किसी अन्य कारण से उनके रिश्तों में खटास आ गई। काफी समय तक वे दोनों एक-दूसरे के करीब नहीं आए। एलिजाबेथ बर्टन की यादों से बचने के लिए एक लंबी यात्रा पर निकल गई जहां उसकी मुलाकात गाड़ियों के एक बिजनेसमैन 'हैनरी वायनवर्ग, से हुई। वह उसके साथ दिल बहलाने की कोशिश में लग गई, लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद भी वह बर्टन की यादों को न भुला सकी।

     एक दिन उसे बहुत जोरदार बुखार चढ़ा और वह गंभीर रूप से बीमार पड़ गई। तमाम दवाई-दरमत करने के बाद भी उसकी तबीयत दिन पर दिन बिगड़ती ही जा रही थी। इस बात की जानकारी जैसे ही बर्टन को मिली वह फौरन उसके पास आ गया और उसकी खूब अच्छी तरह से देख-रेख की, उसने प्रभु से एलिजाबेथ के बेहतर स्वास्थ्य के लिए दुआ भी मांगी। एलिजाबेथ जल्दी ही स्वस्थ हो गयी। बर्टन को अपने पास देखकर उसकी खुशी का ठिकाना न रहा। इसी बीच बर्टन ने उसके सामने विवाह के लिए प्रस्ताव रखा, उसने उसके प्रस्ताव को खुशी-खुशी स्वीकार कर लिया और अपनी सहमति देते हुए उससे लिपट गई। उसके तीन दिन बाद ही उन दोनों ने अफ्रीका के एक छोटे से चर्च में विवाह कर लिया। बर्टन उसकी भावनाओं को खूब अच्छी तरह पढ़ चुका था। वह एलिजा से दिल से प्रेम करता है परन्तु उसे हमेशा इस बात की आशंका बनी रहती थी कि एलिजाबेथ कभी भी उसका साथ छोड़ सकती है। और हुआ भी यही एक साल के भीतर ही उन दोनों का यह रिश्ता खत्म हो गया।

      1976, में फिल्मी मर्दों से छुटकारा पाकर उसने 'जाॅन वार्नर, से विवाह किया, वह एक राजनैतिज्ञ था उस समय वह निक्सन के मंत्रीमंडल में सचिव था। उधर रिचर्ड बर्टन ने 'सूसन हंट, नाम की हिरोइन से विवाह कर लिया।
   एलिजाबेथ ने जिंदगी में बहुत उतार-चढ़ाव देखे और बहुत कठिन परिस्थितियों का सामना भी किया। मगर वह बहुत हिम्मती थी, उसने कभी हार नहीं मानी। वह रिचर्ड बर्टन से अलग जरूर हो गई थी लेकिन कभी उसे भुला नहीं पाई थी। उसे जब इस बात का पता चला कि बर्टन ने सूसन हंट से विवाह कर लिया है तो वह बहुत दुखी हुई। उसने अपनी मित्र से कहा कि मेरा जिस्म बर्टन के संरक्षण में बहुत सुकून में था मगर अफसोस इस बात का है कि हम अब साथ-साथ नहीं हैं।

https://www.paltuji.com/
practical life
      जाॅन वार्नर के साथ चार वर्ष विवाहित जीवन बिताने के बाद उसने उसे तलाक दे दिया। उधर रिचर्ड बर्टन ने भी अपनी तीसरी पत्नी सूसन हंट को तलाक दे दिया। थोड़े दिन बाद 1982,में एलिजाबेथ की पचासवीं सालगिरह की पार्टी थी। इस पार्टी में उसने करीब दो सौ मित्रों को निमंत्रण भिजवाया, लेकिन बर्टन को नहीं बुलाया गया। बर्टन उसके जीवन की सभी गतिविधियों पर बड़ी बारीकी से नजर जमाये रहता था। वह बिना निमंत्रण के ही पार्टी में पहुंच गया। उसे पार्टी में देखकर एलिजाबेथ की खुशी का ठिकाना न रहा। वह सबकी मौजूदगी में ही दौड़कर बर्टन से लिपट गई और फूट-फूटकर रोने लगी।

   बर्टन जब पार्टी से लौटने लगा तो एक पत्रकार ने पूछा कि क्या वह एलिजाबेथ से दुबारा शादी करना चाहते हैं। इस पर बर्टन ने कहा कि 'हां, मैं अभी भी उससे प्यार करता हूं। वे दोनों एक बार फिर से पति-पत्नी बन गये। लेकिन उनका यह विवाह भी जल्दी ही खत्म हो गया। और वे इस बार ऐसा अलग हुए कि फिर कभी भी न मिल सके। क्योंकि अधिक शराब पीने की वजह से बर्टन की मर्त्यु ही हो गई।

सन् 1968 से लेकर उसकी मर्त्यु तक रहे उसके प्राईवेट सचिव के मुताबिक उसकी कमाई का आधा हिस्सा बर्टन और एलिजाबेथ की मन पसंद शराब और ऐशो-आराम में ही खर्च हो जाता था। एलिजाबेथ ने अपने बुढ़ापे के सहारे के लिए एक ट्रस्ट की स्थापना भी करवाई थी जिसकी कमाई उसके खर्च के हिसाब से बिलकुल ठीक थी। 23 मार्च 2011 को लॉस-एंजिलिस के एक अस्पताल में दिल का दौरा पड़ने से एलिजाबेथ टेलर का 79 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उस दिन अस्पताल में उनके चार बच्चे उपस्थित थे, लिज्जा, मारिया, क्रिस्टोफर, और माइकल, उनके बड़े बेटे माइकल से जब उनके संबंध में पूछा गया तो उसने अपनी मां को एक महान आत्मा बताया और कहा हम सभी के लिए वह एक प्रेरणास्रोत थीं। और आगे भी हम उनसे प्रेरणा लेते रहेंगे।

https://www.artoflivingm.com/
practical life








     





       





      
Previous
Next Post »